चंडीगढ़ सेक्टर 33 ए : सुंदर झांकी का उद्घाटन

चंडीगढ़ के सेक्टर 33 ए सेवाकेंद्र पर सिटी मेयर देवेश मौदगिल ने जन्माष्टमी के अवसर पर शिरकत की जिन्हें राजयोग शिक्षिका बीके मनीषा ने म्यूज़ियम दिखाया व मेयर देवेश मौदगिल तथा सेवाकेंद्र प्रभारी बीके उत्तरा ने सेवाकेंद्र पर लगी सुंदर झांकी का उद्घाटन किया। इस झांकी में सतयुग राज दरबार, गोवर्धन पर्वत, श्याम सुंदर आदि झांकियां शामिल थी।

श्री कृष्णा जन्माष्टमी

सेक्टर 46सी सेवा केंद्र के प्रांगण में श्रीकृष्णा जन्माष्टमी को मनाने के लिय स्थानीय लोग बड़ी संख्या में पहुंचे। बच्चों द्वारा प्रस्तुत सांस्कृतिक प्रसंग से इस पर्व के आध्यात्मिक महत्व पर उपस्थित बी के बहनों ने प्रकाश डाला। सभी ने अतीन्द्रिये सुख की अनुभति भी की। सेवा केंद्र प्रभारी बी के पूनम ने परमात्मा द्वारा सृष्टी परिवर्तन की ऐसी बेला में सभी से जीवन में दिव्य गुणों को धारण करने का आवहान किया।

IMG-20180826-WA0104
IMG-20180826-WA0104
« 1 of 27 »

 

रक्षाबंधन नजर

 

IMG-20180824-WA0012
IMG-20180824-WA0012
« 1 of 61 »

चंडीगढ़ में रक्षाबंधन के पर्व पर स्कूलों, कालेजों,  संस्थानों, बैंकों एवं मंदिरों में परमात्म सन्देश रक्षासूत्र बांधकर देते हुए बी के पूनम प्रभारी सेक्टर 46सी एवं बी के मनु सेक्टर 44सी प्रभारी बी के कविता की ओर से:-

« 1 of 3 »

Live show “Awakening of Kumbhakaran”

स्प्रीच्युअल कार्निवाल का आयोजन चंडीगढ सेक्टर-46 सी सेवाकेंद्र द्वारा आयोजित किया गया। 4 दिन के लगे इस मेले का शुभारंभ पहले दिन मुख्य अतिथि पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के जज़ आर. एस. मलिक, सेक्टर-33 ए सेवाकेंद्र प्रभारी बी.के. उत्तरा, फरीदकोट सेवाकेंद्र प्रभारी बी.के. प्रेमलता, सेक्टर-44सी की प्रभारी बी.के. कविता समेत सेवाकेंद्रों की कई वरिष्ठ बहनों ने कैंडल लाइटिंग कर किया। इसके साथ ही मंच पर उपस्थित लोगो ने अपने अपने विचार व्यक्त किए।
मेले में लगी सुंदर झांकियों का जज़ आर. एस. मलिक ने अवलोकन किया। जहां उन्होंने 5 युगों के विषय में जानकारी प्राप्त की। एवं संस्था की स्थापना से लेकर अभी तक की गतिविधियों को देखते हुए एवं उनसे प्रेरित होकर मेडिटेशन भी किया।
वहीं मेले के दूसरे दिन पार्षद गुरूप्रीत सिंह ढिल्लो, अखिल भारतीय प्रवासी संगठन के प्रधान अविनाश शर्मा एवं बी.के. पूनम ने कैंडल लाइटिंग की जहां अतिथियों ने ब्रह्माकुमारीज़ से ये आग्रह किया कि वह प्रतिवर्ष इस प्रकार के मेलो का आयोजन करते रहे।
अब आपको बताते है..कि मेले में क्या क्या मुख्य आकर्षण का केंद्र बने… इसमें सबसे पहले बच्चों के लिए मूल्य आधारित खेलों का आयोजन किया गया। जिसमें बच्चों को पर्यावरण की सुरक्षा के प्रति रूझान पैदा करने के दृष्टिगत पौधे बांटे गए। इसके साथ ही विज्ञान एवं आध्यात्मिक स्टॉल पर लोगों ने बड़ी उत्सुकता के साथ इसका अवलोकन किया। मेले में नवरात्रों के समापन एवं दशहरा के अवसर पर नौ देवियों की झांकियां कुंभकर्ण रूपी मानव को जगाने का लाइव शो दिखाया गया। ऐसे ही मेले के मुख्य द्वार पर बनाए गए स्वागत कक्ष में स्वागत कक्ष में संस्था की स्थापना से लेकर आजतक की गतिविधियों को बखुबी रूप से दर्शाया गया तथा संस्था के संस्थापक प्रजापिता ब्रह्मा बाबा की यादगार शांति स्तंभ को भी सुशोभित किया गया। अभी आपको ओर आगे लेकर चलते है….विद्यार्थियों एवं परिवारों की दैनिक समस्याओं के निवारण हेतु एक परामर्श-कक्ष भी मेले में बनाया गया…सुंदर स्वर्णिम दुनिया यानी स्वर्ग की एक सुंदर झलक भी यहां देखने को मिली….संस्था द्वारा दिए जा रहे आत्मा, परमात्मा व सृष्टि चक्र के ज्ञान को भी नई प्रणाली द्वारा मेले में आए लोगों को दर्शाया गया। आपको बता दे, इन स्टॉलों पर चार दिनों में असंख्य लोगों ने इसे देखकर संतुष्टता का अनुभव व स्वयं को परिवर्तन करने का संकल्प किया।

80 years of Brahmakumaris foundation

ब्रह्माकुमारीज संस्था के अस्सी वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में ब्रह्माकुमारीज संस्था के पंजाब जोन के क्षेत्रिय मुख्यालय चण्डीगढ़ में अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया गया। जिसमें हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने पहुंचकर कार्यक्रम में उपस्थित लोगों का उत्साहवर्धन करते हुए सेवाओं की तारीफ की। इस अवसर पर समाज में उत्कृष्ट कार्य करने वाले शहर के नामचीन लोगों को सम्मानित किया गया।
जब मानवता की सेवा की सफलता के अस्सी वर्ष की यात्रा का हो तो जश्न होना स्वाभाविक है। यही कुछ नजारा दिखा पंजाब जोन के क्षेत्रिय मुख्यालय चंडीगढ़ के सेक्टर 33 में। इस विशाल कार्यक्रम में कई प्रदेशों के लोग शामिल हुए। जिसमें मुख्य रुर से अन्तर्राष्ट्ीय मुख्यालय ब्रह्माकुमारीज संस्था के मीडिया प्रभाग के अध्यक्ष बीके करुणा, कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय, शांतिवन प्रबन्धक बीके भूपाल और मलेशिया की ब्रह्माकुमारीज केन्द्रों की निदेशिका बीके मीरा भी शामिल हुई तो कार्यक्रम अन्तर्राष्ट्रीय होना ही था।
इसी क्रम में बात मेहमानों की करें तो पंजाब हरियाणा उच्च न्यायालय के न्यायधीश दया चैधरी, है। भारतीय जनता पार्टी चण्डीगढ़ के अध्यक्ष संजय टंडन,केडीडीएल के चेयरमैन राजेन्द्र कुमार साबू, भंडारे वाले पीजीआई के जगदीश लाल आहूजा, सुप्रसिद्ध एथलीट गुजरीवान सिंह सिद्धू, न्यायधीश ए एन जिंदल ने भी अपनी शुभकामनाएं दी। इस समारोह में शहर के मेयर आशा जायसवाल मौजूद थे।
इस सम्मान समारोह में पंजाब जोन की प्रभारी बीके उत्तरा, माउण्ट आबू से आये ब्रह्माकुमारीज संस्था के कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय, सूचना निदेशक बीके करुणा, प्रबन्धक बीके भूपाल, आवास निवास प्रभारी बीक देव, हरीनगर दिल्ली की प्रभारी बीके शुक्ला समेत कई लोगों ने भी अपने अपने विचार व्यक्त किये।